Shri Prannath Gyanpeeth-     मासिक पत्रिका आर्थिक सेवा सम्पर्क करें
                                                                 




मुख्य संस्था अध्यात्म निजानन्द दर्शन विजयाभिनन्द बुद्ध ब्रह्मवाणी (तारतम) चितवनि महान व्यक्तित्व साहित्य प्रवचनमाला सुन्दरसाथ
  संस्था
     संस्थापक 
     उद्देश्य 
     स्थिति एवं दिव्य वातावरण 
     कार्यशैली
     संसाधन » 
          निर्मित भवन 
          ज्ञानपीठ में प्रेस की स्थापना
          प्रस्तावित भवन 
          भावी योजनाएँ 
     प्रगति »
          शिक्षा 
          कक्षा के चित्र 
     ज्ञानपीठ की शाखाएं 
 
 
 
 
  संस्था  »  स्थिति एवं दिव्य वातावरण

स्थिति एवं दिव्य वातावरण

सहारनपुर के एक छोटे से नगर सरसावा से २ कि.मी. दूर नकुड़ मार्ग के प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर स्थान पर श्री प्राणनाथ ज्ञानपीठ स्थापित किया जा रहा है । २४ बीघे भूमि पर विस्तृत ज्ञानपीठ में निर्माण कार्य द्रुत गति से चल रहा है । शांति तो यहाँ के वातावरण में मानो घुली-मिली है , नगर के कोलाहल से दूर , नैसर्गिक सौन्दर्य से भरपूर , सुरम्य वातावरण में शरीर , मन-मस्तिष्क आह्लादित हो उठते हैं । ज्ञान के आयाम स्वयंमेव खुल जाते हैं ।

प्रस्तुतकर्ता- ज्ञानपीठ छात्र समूह  
   सर्वाधिकार सुरक्षित © श्री प्राणनाथ ज्ञानपीठ सरसावा